Sale!

Kamakhya Sindoor🛕 – 100% Original (5 gram pack)

1,500.00

कामाख्या सिन्दूर जिसे आमतौर पर कामिया सिन्दूर के नाम से भी जाना जाता है। यह सिंदूर माता रानी की पूजा, वशीकरण, जादू-टोना, गृह-कलेश, कारोबार में बाधा, रुके हुए धन के लिए, कोर्ट कचेहरी,विवाह या प्रेम की समस्या या दूसरी तरह की भूत-प्रेत बाधा ,वास्तुदोष, की समस्याओं को दूर करता है।अगर आपको भी इस तरह की कोई समस्या है तो इसका इस्तेमाल अवश्य करे।

Category:

Description

कामाख्या सिन्दूर जिसे आमतौर पर कामिया सिन्दूर के नाम से भी जाना जाता है। यह सिंदूर माता रानी की पूजा, वशीकरण, जादू-टोना, गृह-कलेश, कारोबार में बाधा, रुके हुए धन के लिए, कोर्ट कचेहरी,विवाह या प्रेम की समस्या या दूसरी तरह की भूत-प्रेत बाधा ,वास्तुदोष, की समस्याओं को दूर करता है।अगर आपको भी इस तरह की कोई समस्या है तो इसका इस्तेमाल अवश्य करे।

कामाख्या सिंदूर आपकी सभी मनोकामनाओ की पूर्ति करने में सक्षम है।कामाख्या सिंदूर विवाहित महिलाओं के लिए अखंड सौभाग्य का वरदान माना जाता है। किसी भी शुक्रवार के दिन महिला द्वारा एक चुटकी सिंदूर लेकर रोज लगने वाले सिंदूर में मिला लिया जाए तो। ओर उसका रोज उपयोग करे ।तो उन महिलाओं का सुहाग अटल रहता है ।घर मे पति पत्नी का किसी भी प्रकार की कलह हो शांत होता है । गृह क्लेश भूतबाधा एवं वास्तु दोष के कारण होने वाले दुष्प्रभाव स्वतःही समाप्त हो जाते है ।

इसके अलावा भी ये सिंदूर बहुत सारे तांत्रिक प्रयोगों में काम आता है । इस सिंदूर से वशीकरण तिलक भी बनाया जाता है।कहते है कि शुक्रवार के दिन इस सिंदूर को पीसकर एक चुटकी सिंदूर केसर चंदन पाउडर गंगाजल ,अथवा दूध हथेली पर लेकर मिलाये एवं माँ कामाख्या से प्रार्थना करे जो काम आपके मन मे है उसकी पूर्णता के लिए ।फिर उसका तिलक करें ।इस प्रयोग को लगातार 41 दिन तक करने से मनोकामना पूर्ण होती है ।कोर्ट कचहरी से संबंधित समस्याए दूर होती है ।

आर्थिक तंगी के हालात में किसी भी शुक्रवार , सोमवर को या फिर नवरात्रि में अपने पूजाघर मे एक एक छोटा लाल चमकीला कपड़ा रखे उसपर एक कटोरा बासमती चावल , लालफूल, ५१ रुपये रखे उसपर कामिया सिंदूर ओर रोली रखे उसे धूप दीप दिखाए ।उसके बाद माँ कामाख्या से प्रार्थना करे कि माँ आप मेरे घर मे माँ लक्ष्मी रूप में हमेशा निवास करें। उसके बाद चावल और उस कपडे की पोटली बना कर अपनी तिजोरी में या दुकान के गल्ले में रखे।जीवन मे कभी रुपये पैसे की कमी नही होगी।इसके अलावा भी इस माता के महा प्रसाद से बहुत सारे प्रयोग सम्पन्न किये जाते है ।इस सिंदूर का घर मे होना ही धन का सूचक होता है ।

बिशेष: कामाख्या सिंदूर को प्रयोग में लेन से पहले ॐ कामाख्याये वरदे देवी नीलपर्वता वासिनी! त्व देवी जगतं माता योनिमुद्रे नमोस्तुते!! मंत्र का 108 बार जप करके अभिमंत्रित करना चाहिए |

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Kamakhya Sindoor🛕 – 100% Original (5 gram pack)”

Your email address will not be published. Required fields are marked *